पीड़ादाई गाउट

पीड़ादाई गाउट

जोडो और टिशूज को प्रभावित कारने वाली इस समस्या के लिए पीड़ा की शुरुवात में ही ध्यान देना भविष्य के लिहाज से लाभदायी है। गाउट की परेशानी को नजरअंदाज़ करना या इलाज को सही समय पर न अपनाना शरीर को बहुत नुकसान पहुंचा सकता है।
गाउट को अर्थराइटिस का ही एक प्रकार कहा जा सकता है। इसके चलते शरीर में जोड़ो में और टिशूज पर यूरिक एसिड की मात्रा क्रिस्टल के रूप में जम जाती है। जिसके कारन दर्द, सूजन और जकड़न सी महसूस होने लगती है। समान्य तौर पर यूरिक एसिड रक्त में घुल कर किडनी द्वारा छान लिया जाता है और शरीर से बहार हो जाता है लेकिन जब इस प्रक्रिया में किसी भी बंधा आती है या यूरिक एसिड का स्टार बढ़ जाता है तो परेशानी भी बढ़ जाती है। महिलाओं के तुलना में पुरुष इस परेशानी के ज्यादा शिकार होते है। इसके अलावा बढ़ती उम्र, भोजन में मिट, फिश आदि जैसे खाघ पदार्थो का सेवन इस तकलीफ को और बढ़ा सकते है।

जोड़ो और किडनी पर खतरा
गाउट के मामले में यूरिक एसिड के क्रिस्टल जोड़ो पर सूजन और दर्द तो लेट ही है लेकिन किडनी में इनके जमा जमा होने से ये स्टोन्स यानि पथरी का रूप लेते है जो पीड़ादायी होने के साथ किडनी को गंभीर नुकसान भी पंहुचा सकता है। इससे किडनी के परमानेंट डैमेज होने की आशंका बढ़ जाती है।

जीवनशैली में परिवर्तन से लाभ
जीवनशैली और खान-पान में संतुलन स्वास्थ्य के मामले में किसी जादू की तहा काम कर सकता है। गाउट के सन्दर्भ में भी यही बात मायने रखती है। यदि खान-पान और लाइफस्टाइल में परिवर्तन लाया जय तो इस तकलीफ में भी रहत मिल सकती है। यही नहीं ऐसे परिवर्तन इस तकलीफ के सिकंजे में फंसने से भी बचा जा सकता है।
इसके लिए इन बातों को ध्यान में रखा जा सकता है-
• सबसे पहले यूरिक एसिड के स्टार को बढ़ने वाली वजहों जैसे मोटापा,है ब्लड प्रेशर आदि पर काबू रखने की कोशिस करे।
• अपने भोजन में फाइबर युक्त चीज़ों को अधिकता रखें।
• भरपूर मात्रा में पानी पिए।
• सबुत अनाज और लो फैट डेयरी उत्पादों का सेवन करे।
• तेज शक्कर और सोडा से बने कोल्ड ड्रिंक्स और जूस से दुरी बनाये। और शराब से दुरी बनए।
• कठिन, दिन भर भूखे रहने वाली डाइट या उपवास से बचे, इससे शरीर में यूरिक एसिड बढ़ जाती है।
• मांसाहारी, खासतौर पर मिट, शैल फिश आदि के सेवन से बचे।
• नियमित व्यायाम को जीवन का हिस्सा बनाये।
• विटामिन-सी, चेरी, कॉफी और फॉलेट जैसे पदार्थो में मौजूद पोषक तत्वा गाउट की परेशानी को दूर रखने में मदद करते है।

Leave a Reply

Close Menu
×
×

Cart