शरीर के दर्द कम करने के लिए

शरीर के दर्द कम करने के लिए

दवाई लेने से कुछ देर में दर्द गायब हो जाता है , लेकिन शरीर को
दवा की आदत पड़ जाती है। इसके साइड इफेक्ट भी हो सकता हैं
, जिनसे शरीर के दर्द को कम किया जा सकता है।
चेरी :- चेरी में मौजूद तत्व एन्टोसायनिंस कहलाते हैं। इसमें
काफी मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट होते है। ये दर्द को रोकते हैं और
दर्द पैदा करने वाले एन्जाइम्स को रोकने लगते हैं। यह ठीक वैसे
ही चलते हैं। जैसे एस्प्रिन या नेप्रोक्सेन। गाठिया , मांसपेशियों
के दर्द में राहत के लिए, हर दिन ४५ खा सकते हैं।
अदरक : गाठिया , माइग्रेन, मांसपेशियों की ऐठन में राहत के लिए
लाभदायक। पेट की गड़बड़ी को दुरुस्त करने , समुन्द्र में बीमार
महसूस करने पर या उल्टी आने पर इसका सेवन किया जाना
चाहिए।
यह आँतों में फंसी हुई हवा को भी निकल देती है इसको भोजन में
कई तरह से शामिल किया जा सकता है। चाहें तो मसालों के
साथ या सुबह की चाय के साथ भी पी सकते है। हर दिन १/४
चम्मच जरूर खाएं।
हर्बल टी : ग्रीन टी एंटी – ऑक्सीडेंट्स से भरपूर होती है। इसमें
कम मात्रा में कैफीन होता है। १५० मिलीलीटर के कप में ८ से

३६ मिलीग्राम तक कैफीन होता है जबकि फ़िल्टर कॉफी में इतनी
ही मात्रा में यह १०६ से १६४ ग्राम का होता है।
इससे ब्लड वैसल सिकुड़ती है और सर का दर्द कम हो जाता है।
सिरदर्द में राहत के लिए, हर दिन करीब तीन कप।
हल्दी : दर्द को हरने की कारगर दवा हल्दी है। हल्दी से टिश्यूज
का डिस्ट्रक्शन भी रोका जा सकता है। भारतीय भोजन में हर
दिन १-२ ग्राम हल्दी डाली जाती है। जोड़ो में दर्द या
कोलायटिस में , एक चम्मच का एक तिहाई प्रीतिदिन।
योगर्ट फायदा : इसके सेवन से पेट दर्द या आईबीएस की तकलीफ
दूर होती है। दही में लैक्टोबेसिलस जैसे बेक्टेरिया हैं,जो इसे
दुरुस्त करते हैं। हर दिन एक या दो कप।

Leave a Reply

Close Menu
×
×

Cart