सर्दियों का मौसम एक्सरसाइज करने का

सर्दियों का मौसम एक्सरसाइज करने का

 

सर्दियां आ गई है और इस समय बड़ी संख्या में लोग जिम ज्वाइन करने से लेकर नए फिटनेस रूटीन बनाने की कवायद करते है। एक्ससरसाइज शुरू करने के लिहाज से यह वक्त सर्वोत्तम होता है। ठण्ड के मौसम में पौष्टिक आहार के साथ कसरत करने से शरीर को ऊर्जा और रोग प्रतिरोधक क्षमता मिलती है जो सारे साल काम आती है।

पूरे शरीर पर फोकस करें

व्यायाम का सही लाभ तब मिलेगा आप पूरे शरीर पर फोकस करेंगे। एक्सरसाइज रूटीन में भी सभी तरह की कसरतें शामिल करें। जिम ज्वाइन कर रहे है तो निश्चित ही वहां पूरे शरीर के वर्कआउट के लिए उपयुक्त मशीनें होती है। जिम ज्वाइन करते समय वहां के ट्रेनर , हाइजीन का लेवल और सही मशीनों के बारे में पता करना जरुरी है। अपनी शरीरिक अवस्था और जरुरत के हिसाब से व्यायाम को चुने। जरूरत पड़े तो चिकित्सक की भी सलाह ले लें। वर्कआउट किस इंटेसिटी का हो यह हर व्यक्ति के हिसाब से अलग अलग हो सकता है। हर व्यक्ति का शरीर दूसरों से भिन्न होता है साथ ही खान पान भी अलग अलग होता है। एक्सरसाइज शुरू करने से पहले एक बार किसी विशेषज्ञ या डॉक्टर की सलाह जरूर लें।

वक्त लगता है वजन कम करने में

“एक दिन में न तो वजन कम होता है , न ही बढ़ता है “

अगर कोई व्यक्ति यह सोचकर जिम ज्वाइन करे कि उसका वजन एक दिन में कम हो जाएगा तो उसे अपनी अवधारणा बदल लेनी चाहिए। एक दिन में न तो वजन कम होता है , न ही बढ़ता है। शरीर पर व्यायाम का असर दिखने में कम से कम एक महीना लगता है और इस दौरान भी सिर्फ शुरूआती असर दिखता है। इसलिए थोड़े धैर्य के साथ नियमित अभ्यास करें। यदि तीन चार महीनों में भी आपको फर्क न दिखे तो अपने खान पान और रूटीन को चैक करने के साथ ही डॉक्टर से भी सलाह लें।

फिट रहने के लिए जिम जरूरी नहीं

“जिम छोड़ने के बाद रनिंग , ब्रिस्क वॉक , जॉगिंग आदि भी सही सलाह लेकर अपनाये जा सकते है “

कई लोग फिट रहने बड़े जोश से जिम ज्वाइन तो करते है कुछ ही दिनों में उनका जोश ठंडा पड़ जाता है या अन्य कारणों से वे रेग्युलर नहीं रह पाते। जिम छोड़ते ही तेजी से वजन बढ़ने लगता है। ऐसे में जिम छोड़ने के बाद रनिंग , ब्रिस्क वॉक , जॉगिंग आदि भी सही सलाह लेकर अपनाये जा सकते है।

ठीक किसी भी अन्य मशीनरी की तरह ही शरीर को भी नियमित रूप से काम में लेने की आवश्यकता होती है ताकि शरीर का हर पुर्जा ले में रहें।

युवावस्था में खूब करें

“एक्सरसाइज जब तक आपके शरीर को तकलीफ न दे , तब तक ही करें “

एक्सरसाइज जब तक आपके शरीर को तकलीफ न दे , तब तक ही करें। अधिक व्यायाम से शरीर पर उल्टा असर हो सकता है इससे बचें। यदि किसी एक्सरसाइज या मशीन के इस्तेमाल के बाद आपको शरीर में दर्द , मसल्स में खिंचाव , हड्डियों में तकलीफ आदि महसूस होती है तो तुरंत डॉक्टर की मदद लें। किसी भी एक्सरसाइज मशीन का प्रयोग आपके मन से न करें।

नियमित रहें

एक्सरसाइज कभी भी शार्टटर्म फायदे के लिए नहीं होती। यही वजह है कि इन्हें नियमित रूप से करते रहना पड़ता है। यदि बीच बीच में इसे कुछ समय के लिए छोड़ देंगे तो फायदे के स्थान पर नुकसान हो सकता है। हलकी एक्सरसाइज से शुरू करें फिर धीरे धीरे बढ़ा सकते है।

पानी पीते रहें

एक्सरसाइज के साथ दौरान या उसके बाद सही मात्रा में पानी या नैचुरल एनर्जी ड्रिंक्स के सेवन को लेकर सलाह लें। एक्सरसाइज के तुरंत बाद कुछ खाएं नहीं। शरीर से निकले पसीने और नमक की मात्रा के संतुलन को बनायें रखने के लिए सही पेय का चुनाव करें।

Leave a Reply

Close Menu
×
×

Cart